होम पेज रेडियो वाटिकन
रेडियो वाटिकन   
more languages  

     होम पेज > कलीसिया >  2013-05-10 07:18:53
A+ A- इस पेज को प्रिंट करें



प्रेरक मोतीः सन्त सोलान्ज (निधन 880)



वाटिकन सिटी 10 मई सन् 2013
सन्त सोलान्ज का जन्म फ्राँस में बोर्जेस नगर के एक निकटवर्ती गाँव में हुआ था। उनके माता पिता कृषि करते थे तथा वे अपने घर की भेड़ों को चराने ले जाया करती थीं। पोईटियर्स के एक राजसी पुरुष की दृष्टि सोलान्ज पर पड़ी जिसके सौन्दर्य के प्रति वह आकर्षित हुआ। सोलान्ज को अपने साथ रखने के लिये उसने उसका अपहरण कर लिया किन्तु जब सोलान्ज उसके घोड़े से कूद पड़ी तथा भाग निकलने की चेष्टा करने लगी तब उस आततायी ने उसपर तलवार से वार किया तथा उसका तब तक पीछा किया जब तक वह मर न गई। सोलान्ज की हत्या के बाद उनकी मध्यस्थता से कई चमत्कार हुए और फ्राँस के कई प्रान्तों में उनकी भक्ति शुरु हो गई, विशेष रूप से, बेर्री प्रान्त में। सोलान्ज को बेर्री प्रान्त की संरक्षिका भी घोषित किया गया है। वे चरवाहों एवं बलात्कार की शिकार महिलाओं की संरक्षिका हैं। फ्राँस की सन्त सोलान्ज का पर्व 10 मई को मनाया जाता है।

चिन्तनः अपने हृदय को शुद्ध रखने के लिये हम सन्त सोलान्ज से मध्यस्थता की याचना करें ताकि पाप के प्रलोभन में न पड़ें।

Juliet Genevive Christopher


कांदिविदी






हम कौन हैं? समय-तालिका सम्पादकीय मंडल के साथ पत्राचार वाटिकन रेडियो की प्रस्तुति सम्पर्क अन्य भाषाएँ संत पापा वाटिकन सिटी संत पापा की समारोही धर्मविधियाँ
All the contents on this site are copyrighted ©. Webmaster / Credits / Legal conditions / Advertising