होम पेज रेडियो वाटिकन
रेडियो वाटिकन   
more languages  

     होम पेज > कलीसिया >  2013-11-20 14:55:23
A+ A- इस पेज को प्रिंट करें



30 अक्तूबर 2013



श्रोताओं के पत्र
पत्र- 13.9.13
मैं वाटिकन रेडियो का नया श्रोता हूँ। मुझे आपके सभी कार्यक्रम पसंद हैँ। आप सभी को बहुत-बहुत धन्यवाद। आप मेरे पते पर वाटिकन भारती पत्रिका भेज दें।
धर्माराम जाणी, राजस्थान स्थित बाड़मेर के तेह चौहटन रानातली।
पत्र- 5.9.13
महात्मा गाँधी ने कहा, यदि तुम एक बालक को शिक्षा देते हो तो एक ही व्यक्ति को शिक्षा देते हो किन्तु एक बालिका को शिक्षा देते हो तो एक परिवार, समाज एवं देश को शिक्षित करते हो। शिक्षक दिवस मुबारक हो।
डॉ. हेमान्त कुमार, भागलपुर के गोराडीह से प्रियदर्शनी रेडियो लिसर्न्स क्लब के अध्यक्ष।

पत्र- 30.9.13
आदरणीय पिताजी, आप सभी को प्रभु येसु के नाम में नमस्कार। 29 तारीख को प्रेम विषय पर, नई दिशाएँ कार्यक्रम काफी दिलचस्प रही। आप सभी को धन्यवाद।
विद्यानन्द राम दयाल, पियर्स मोरिसस।
पत्र- 30.8.13
भागलपुर के गोराडीह से प्रियदर्शनी रेडियो लिसर्न्स क्लब के अध्यक्ष डॉ. हेमान्त कुमार 30 अगस्त के पत्र में लिखते हैं।
जन्माष्टमी पर कृष्ण को पूजा जाता हैं, उनके जीवन की झाँकियाँ पेश की जाती हैं, लेकिन जीवन में कृष्ण के संदेश को उतारा नहीं जाता। कृष्ण का संदेश है: जीवन उत्सव है, काम नहीं। कृष्ण ने बांसुरी को प्रतिष्ठा दी, रासलीला को सम्मान दिया। कृष्ण ने गंभीरता को हटा दिया और सहजता से जीना सिखाया, अपने आचरण से दिखाया कि प्रेम ज़िंदगी का रस है। इसलिए सहज जीवन जिएँ। नृत्य और संगीत, रागरंग जीवन शैली बन गई है। ऐसे मेँ कृष्ण का संदेश सार्थक मालूम होता है। कृष्ण की सिर्फ पूजा न करें वरन उसके संदेश को जीयें। कृष्ण वृत्ति फैल जाए, तो दुनिया के बहुत से उपद्रव बंद हो जाऐँगे। दुनिया शांत और आनंदमय होगी।

पत्र- 16.10.13
मैं आपका बहुत पुराना श्रोता हूँ आपके अच्छे कार्यक्रम के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। आपके द्वारा प्रसारित देश-विदेश के समाचार मुझे पसंद है।
कृपाराम कागा, राजस्थान स्थित बाड़मेर के तेह चौहटन रानातली।
पत्र 17.10.13
14 अक्तूबर को सुबह 25 मीटर बैंड पर साप्ताहिक नई दिशाएँ कार्यक्रम के तहत सिस्टर उषा एवं फादर विनोद जी की भेंटवार्ता का दूसरा भाग सुना। काफी पसंद आई। इसके लिए सिस्टर उषा जी को हमारी ओर से धन्यवाद। क्योंकि भारत एक आधात्मिक देश है। धर्म को किसी ने बनाया नहीं है इसलिए न तोड़ा जाए। मानव, मानव से प्रेम रखे। साथ ही साथ चेतना जागरण के तहत माईकेल होजेस द्वारा लिखित नाटक औकात सुना। काफी ज्ञानवर्द्धक लगा। उसके लिए भी धन्यवाद। वाटिकन भारती पत्रिका भेज दें।
राजेश कुमार, बिहार स्थित मुजफ्फरपुर के पारसा पात्ती, मध्य माथ।
पत्र- 29.10.13
आप सभी को दीवाली मुबारक हो। दीवाली आपके लिए आपार आनन्द, स्वास्थ्य एवं धन लेकर आए। दीवाली का त्योहार आपको तथा आपके सभी प्रियजनों के जीवन को ज्योति से भर दे। यह आपकी सबसे बड़ी कामना को पूर्ण कर दे तथा शांति एवं सम्पन्नता प्रदान करे। अंधकार पर प्रकाश की विजय हो। दीवाली हमें राह दिखाये, शांति पथ पर ले चले तथा सामाजिक सामंजस्य से भर दे। ईश्वर आप को आशीष दे।
डॉ. हेमान्त कुमार, भागलपुर के गोराडीह से प्रियदर्शनी रेडियो लिसर्न्स क्लब के अध्यक्ष।

Usha Tirkey


कांदिविदी






हम कौन हैं? समय-तालिका सम्पादकीय मंडल के साथ पत्राचार वाटिकन रेडियो की प्रस्तुति सम्पर्क अन्य भाषाएँ संत पापा वाटिकन सिटी संत पापा की समारोही धर्मविधियाँ
All the contents on this site are copyrighted ©. Webmaster / Credits / Legal conditions / Advertising