होम पेज रेडियो वाटिकन
रेडियो वाटिकन   
more languages  

     होम पेज > कलीसिया >  2014-06-11 16:31:51
A+ A- इस पेज को प्रिंट करें



4 जून 2014



श्रोताओं के पत्र
पत्र- 15.3.14
महाशय, नमस्कार! परम सम्मान के साथ सहर्ष सूचित करना है कि मैं वाटिकन रेडियो का नियमित, पुराना तथा जागरूक श्रोता हूँ। आपके द्वारा प्रसारित सभी कार्यक्रम शांतिदायक, ज्ञानवर्धक, शिक्षाप्रद, प्रेरणादायक और सारगर्भित होते हैँ। कार्यक्रम प्रस्तुतिकरण शैली तथा प्रसारण गुणवत्ता उच्च स्तर के हैं इसलिए कार्यक्रम सुनकर नियमित पत्र लिखने का प्रयास करता हूँ। आपके फेसबुक और वेबसाइट भी बहुत अच्छे लगते है। 15 फरवरी को शाम की सभा में कार्यक्रम-रविवारीय आराधना विधि चिंतन में वचनों के पालन पर आधारित एक लघु कथा तथा सांसारिक पाप जैसे- व्यभिचार, लोभ, क्रोध पर दिया गया जानकारी प्रेरणादायक तथा शिक्षाप्रद लगी। सुन्दर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए वाटिकन रेडियो परिवार को धन्यवाद!
पत्र-18.5.14
आदरणीय पिताजी आप सभी को प्रभु येसु के नाम में नमस्कार।
उस युवक ने मरिया के सद्व्यवहार से प्रभावित होकर प्रभु येसु का सच्चा भक्त बन गए।
पत्र- गोरखपुर से स्व. मीनू रेडियो श्रोता संघ के अघ्यक्ष बद्री प्रसाद वर्मा अंजान अपने पत्र में लिखते हुए कहते हैं, आदरणीय सम्पादक जी, नमस्कार। वाटिकन भारती के अक्टुबर अंक के मुख्य पृष्ट पर जुलियट क्रिस्टोफर जी का फोटो बहुत प्यारा लगा तथा आलेख भी खूब पसंद आई। संत पापा के संदेश् और कार्यक्रम के बारे में विस्तार से जानकारी पा कर मन खुशी से झूम उठा किन्तु हमारी शिकायत है कि वाटिकन पत्रिका में श्रोताओं की रचनाएँ प्रकाशित नहीं की जाती हैं।
कृप्या 2 पेज पर श्रोताओं की रचनाएँ प्रकाशित की जाए। होली पर एक कविता भेज रहा हॅूं इसे जरूर प्रकाशित कीजिएगा।
प्यार का संदेश लाती है होली
सब धर्मों पर प्यार लुटाती है होली।
न कोई बड़ा है न कोई छोटा है
बात यह बताती है होली।
एक दूसरे को गले लगा लो
प्यार की बात सिखाती है होली।
नफरत न मन में पालो
भेद-भाव मिटाना सिखाती है होली।

पत्र- मुर्शिदाबाद के कारकाटा पारा से लाइना आरजमान बानु पत्र में हमें लिखते हैं-
महाशय, प्रभु यीशु मसीह की मधुर और पवित्र नाम में प्यार भरा नमस्कार। मैं रेडियो वाटिकन का हिन्दी कार्यक्रम नियमित सुनता हॅूं, सभी कार्यक्रम बहुत रोचक और ज्ञानवर्धक होते हैं। ये पहला पत्र हैं। आप मेरे पास कार्यक्रम सारणी, स्टीकर, पत्रिका भेज दीजिए। धन्यवाद।

Usha Tirkey


कांदिविदी






हम कौन हैं? समय-तालिका सम्पादकीय मंडल के साथ पत्राचार वाटिकन रेडियो की प्रस्तुति सम्पर्क अन्य भाषाएँ संत पापा वाटिकन सिटी संत पापा की समारोही धर्मविधियाँ
All the contents on this site are copyrighted ©. Webmaster / Credits / Legal conditions / Advertising