होम पेज रेडियो वाटिकन
रेडियो वाटिकन   
more languages  

     होम पेज > प्रेरितिक यात्राएँ >  2014-08-17 11:55:22
A+ A- इस पेज को प्रिंट करें



सिओल के होजिन ली बने फ्राँसिस



सिओल, 17 अगस्त, 2014 (मुख्य प्रेस कार्यालय, सिओल) दक्षिण कोरिया के सिओल में हुई पानी जहाज दुर्घटना के शिकार एक युवा के पिता होजिन ली को संत पापा फ्राँसिस ने बपतिस्मा संस्कार प्रदान किया।

होजिन ली ने अपना नाम फ्राँसिस चुना । संत पापा ने फ्राँसिस को दृढ़ीकरण संस्कार भी प्रदान किया।

कोरियाई प्रेरितिक दूतावास से प्राप्त जानकारी के अनुसार बपतिस्मा संस्कार समारोह प्रेरितिक दूतावास में रविवार 17 अगस्त को प्रातः 7 बजे सम्पन्न हुआ। होजिन ली के साथ उसका एक पुत्र और एक पुत्री भी उपस्थित थे। बपतिस्मा का कार्यक्रम 1 घंटे तक चला।

स्थानीय सूत्रों के अनुसार 25 वर्ष पूर्व संत पापा जोन पौल द्वितीय ने कोरिया में बपतिस्मा दिया था जब उन्होंने 7 अक्तूबर 1989 में कोरिया की प्रेरितिक यात्रा की थी और उन्होंने 44वीं यूखरिस्तीय काँग्रेस की अध्यक्षता की थी। उन्होंने 12 युवाओं को बपतिस्मा दिया था।

Justin Tirkey


कांदिविदी






हम कौन हैं? समय-तालिका सम्पादकीय मंडल के साथ पत्राचार वाटिकन रेडियो की प्रस्तुति सम्पर्क अन्य भाषाएँ संत पापा वाटिकन सिटी संत पापा की समारोही धर्मविधियाँ
All the contents on this site are copyrighted ©. Webmaster / Credits / Legal conditions / Advertising